Kaise Kare

दुकान या घर में बैंक की ब्रांच कैसे खोलें | Dukan me yaa ghar me bank ki branch kaise khole

आजकल महंगाई बहुत बढ़ चुकी है। इसलिए हर कोई पैसे की कमी के कारण आर्थिक तंगी से गुजर रहा है। जो लोग नौकरी या काम कर रहे हैं उनको भी पैसों की कमी महसूस हो रही है। यदि आप अपने घर मकान में रहते हैं और साइड इन्वेस्टमेंट कर के प्रति महीना पैसा कमाना चाहते हैं तो घर या दुकान को किसी बैंक को किराए पर देना काफी बेहतरीन होगा। आज की इस पोस्ट में हम ही जानेंगे अपनी दुकान या घर में बैंक की ब्रांच कैसे खोलें? (Apne dukan me yaa ghar me bank ki branch kaise khole)

ADVERTISMENT

यदि आपके पास खाली घर दुकान है कमरा पड़ा हुआ है और उसे आप किसी बैंक को किराए पर देना चाहते हैं तो आपको यह पोस्ट जरूर पढ़ना चाहिए। इस पोस्ट में आपको दुकान घर कमरा बैंक को किराए (Dukan me bank kaise khole) पर देने के संबंधित सारी जानकारी मिल जाएगी।

इस पोस्ट में आपको हर वह चीज से अवगत कराया जाएगा जो किसी दुकान या कमरे को बैंक पर किराए पर देने के लिए आवश्यक है।
जैसे की जमीन का एरिया कितना होना चाहिए, जमीन से संबंधित जरूरी दस्तावेज, बैंक द्वारा तय की गई शर्तें आदि।

इन पोस्ट में हम उन सभी तरीकों, डॉक्युमेंट वेरीफिकेशन प्रोसेस की बात करेंगे जिसे आपको करना होगा।

Titile Apne dukan me yaa ghar me bank ki branch kaise khole
घर या दुकान में बैंक की ब्रांच खोलने के फायदे: 1. समय पर किराए का भुगतान

2. Lease

3. Overall development

 

बैंक ब्रांच खुलवाने के लिए जरूरी दस्तावेज Registry, 13 years record, Id proof, Affidavit, stamp paper
Required property size 1200-1500 sq. ft
Per month rent for 1200-1500 sq. ft 20000-25000
Requirements 1. जमीन रोड पर हो

2. बिल्डिंग अच्छी हालत में हो

3. 24 घंटे बिजली पानी की सुविधा

4. पार्किंग की जगह

घर या दुकान में बैंक की ब्रांच खोलने के फायदे:

घर दुकान या खाली पड़े कमरे में बैंक की ब्रांच खोलने के कई फायदे होते हैं। ज्यादातर लोग केवल यही जानते होंगे कि यदि बैंक को जमीन किराए पर दी तो प्रति महीने किराया आएगा। परंतु केवल इतना ही नहीं बैंक को जमीन किराए पर देना बाकी किसी किराएदार को जमीन किराए पर देने से काफी अलग है। क्योंकि बैंक को जमीन किराए पर देने के इसके भी अलावा ऐसे कई फायदे हैं जो आप शायद नहीं जानते होंगे। आइए हम इन्हीं फायदों के बारे में जानते हैं:

1. समय पर किराए का भुगतान

बैंक को जमीन किराए पर देने का सबसे बड़ा यह फायदा है कि बैंक प्रति महीने समय पर किराया अदा करता है। क्योंकि बैंकों के पास पैसों की कमी नहीं है जबकि अगर आप किसी अन्य किराएदार को जमीन किराए पर देते हैं तो कई बार वे समय पर किस्त अदा नहीं करते हैं।

2. Lease

जब भी आप बैंक को जमीन किराए पर देते हैं तो वे असल में एक डॉक्यूमेंट साइन करते हैं जिसे lease कहा जाता है। यह लीज कानूनी पत्र होता है जिसमें यह लिखा होता है कि यह जमीन बैंक को कितने समय के लिए लीज पर दी गई है। इस प्रकार बैंक को जमीन किराए पर देने से कभी भी उस पर कब्जा होने का खतरा नहीं रहता है। जबकि कई बार यदि आप किसी व्यक्ति को किराए पर देते हैं तो यह खतरा बना रहता है कि वह उसको कब्जा कर सकता है। बैंक को जमीन लीज पर दिए जाने के बाद लीज के समय से पहले बैंक जमीन खाली नहीं करता है। लीज का समय पूरा होने के बाद ही आप बैंक को जमीन खाली करने के लिए कह सकते हैं।

3. Overall development

बैंक को जमीन किराए पर देने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि बैंक के आसपास क्षेत्र का काफी विकास होता है। बैंक की शाखा खोलने से उसके आसपास और भी कई नई दुकानें खुल जाती हैं। यदि आपके पास एक रिहायशी जमीन है तो ना केवल बैंक बल्कि अन्य दुकानों को भी किराए पर देकर आप अच्छा खासा मुनाफा कमा सकते हैं। दुकान में बैंक ब्रांच खुलवाने के बाद बैंक एटीएम मशीन और पासबुक मशीन के लिए भी रिहायशी इलाके की तलाश में रहता है। इसलिए यदि आप अपनी दुकान या जमीन पर बैंक ब्रांच खुलवा लेते हैं तो आपको एटीएम मशीन का किराया भी आएगा।

बैंक ब्रांच खुलवाने के लिए जरूरी दस्तावेज

अपनी रिहायशी इलाके में बैंक ब्रांच खुलवाने के लिए आपके पास जमीन से जुड़े हुए सभी जरूरी दस्तावेज होने चाहिए। सबसे पहले आपके पास जमीन की रजिस्ट्री होनी चाहिए जिसमें साफ-साफ आपका नाम लिखा होना चाहिए।

जिस जमीन को किराए पर दे रहे हैं उस पर बनी बिल्डिंग का नक्शा कमेटी घर से पास होना चाहिए।

आपके पास जमीन से जुड़े अन्य दस्तावेज होने चाहिए जैसे कि फर्द, 13 सालां।

जमीन पर किसी भी प्रकार का कोई लोन या फिर केस नहीं होना चाहिए।

एफिडेविट– बैंक को जमीन किराए पर देने के लिए एक एफिडेविट की भी जरूरत पड़ती है। इस एफिडेविट को लीज भी कहा जाता है। यह एक प्रकार का कानूनी पत्र होता है जिस पर यह लिखा होता है कि आप इतने वर्षों के लिए जमीन बैंक को लीज पर दे रहे हैं। निर्धारित समय से पहले आप बैंक से अपनी जमीन खाली करने के लिए नहीं कह सकते। यदि आप और अधिक समय के लिए बैंक को जमीन किराए पर देना चाहते हैं तो उसकी अवधि भी बढ़ाई जा सकती है। एफिडेविट के साथ स्टांप पेपर भी लगता है। यह सारे दस्तावेज आपको तहसील से बनवा कर अटेस्ट भी करवाने होते हैं।

इसके साथ आपको अपने पर्सनल डॉक्यूमेंट भी जमा कराने होंगे। इसके लिए पहचान पत्र जमा कराना होगा। पहचान पत्र के लिए आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर कार्ड जमा करा सकते हैं।
एड्रेस प्रूफ के लिए बिजली का बिल
फोटो फोन नंबर और ईमेल आईडी

प्रॉपर्टी का कितना साइज होना चाहिए

किसी  मध्यम आकार के बैंक को जमीन किराए पर देने के लिए कम से कम 12 स्क्वेयर फीट की जमीन होनी चाहिए। ज्यादातर बैंकों को ब्रांच खोलने के लिए 1200 स्क्वेयर फीट से 1500 स्क्वेयर फीट की जगह की आवश्यकता पड़ती है। बैंक का हेड ब्रांच खुलवाने के लिए 25 स्क्वायर फीट जमीन की आवश्यकता होती है।

एटीएम मशीन के लिए जमीन किराए पर देने के लिए 50 से 100 स्क्वायर फीट की जगह होनी चाहिए।

ब्रांच खुलवाने के लिए बैंक से कांटेक्ट कैसे करें

यदि आप उपरोक्त बताई गई सभी नियम व शर्तें पूरा करते हैं और अपनी प्रॉपर्टी पर बैंक ब्रांच खुलवाना चाहते हैं तो सबसे पहले आप को बैंक से फिजिकली कांटेक्ट करना होगा। इस प्रोसेस के लिए कोई भी ऑनलाइन प्रक्रिया नहीं है। आपको डायरेक्ट बैंक के मैनेजर से बात करनी होगी।

कितना किराया मिलेगा

1500 से 2000 स्क्वायर फीट जमीन 25000 से लेकर 50000 तक किराया मिलता है। हालांकि यह सब जमीन की स्थिति और लोकेशन पर निर्भर करता है। यदि बैंक ब्रांच शहर में मौजूद है तो आपको किराया ज्यादा मिलेगा। बंधन बैंक जो की अक्सर गांव में होते हैं वह जमीन किराए पर लेने के लिए कम पैसे अदा करते हैं।

कौन से बैंक की ब्रांच खुलवाना सबसे बेहतर होगा

आज के समय में ज्यादातर बैंक अपनी ब्रांच पहले ही खुलवा चुके हैं और ज्यादातर बैंकों की ब्रांच merge होने के कारण और कम हो गई है। परंतु अभी भी ऐसे बहुत सारे बैंक हैं जो खुद की शाखाएं एक्सपेंड करने के लिए रेजिडेंशियल एरिया किराए पर लेते हैं। वह बैंक जो अभी हाल ही में खुले हैं और नए है वे अक्सर ब्रांच खोलने के लिए जमीन किराए पर लेने की तलाश में रहते हैं। ऐसे ही कुछ बैंक जिनको आप आसानी से जमीन किराए पर दे सकते हैं वे आईडीबीआई, आईएफडीसी संगम बैंक आदि है। उज्जीवन बैंक में सबसे आसानी से बैंक शाखा को लगाई जा सकती है। यह अब तक 464 किराए की जमीन पर शाखाएं खुलवा चुका है।

यदि आपके पास बड़ी जगह नहीं है तो आप अपने घर को भी किराए पर दे सकते हैं। जी हां, बंधन बैंक एक ऐसा बैंक है जो अक्सर घर में अपनी बैंक शाखाएं खोलता है।

मकान किराए पर देने के लिए बैंक कैसे ढूंढे

यदि आप अपनी जमीन बैंक को किराए पर देना चाहते हैं तो सबसे पहला काम होगा कि आपका ऐसे बैंक ढूंढने होंगे जो अपनी नई शाखा खोलना चाहते हैं। कोई भी बैंक जब शाखा खोलता है तो सबसे पहले इसके लिए अखबार में विज्ञापन देता है। नए बैंक में खोलने के लिए अखबार में विज्ञापन देना जरूरी है। इसी विज्ञापन के जरिए आप बैंक तक पहुंच सकते हैं। समय-समय पर कई सारे बैंक या विज्ञापन जारी करते रहते हैं। यदि आप भी अपने जमीन पर बैंक ब्रांच खुलवाना चाहते हैं तो इन विज्ञापनों पर नजर बनाए रखें।

अब बैंकों की ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर भी बैंक से कांटेक्ट कर सकते हैं। सभी बैंकों के लिए यह अनिवार्य है कि वह अपनी वेबसाइट पर विज्ञापन प्रकाशित करें। इस ऑनलाइन विज्ञापन के जरिए भी आप बैंक से कांटेक्ट कर सकते हैं।

बैंक एटीएम फ्रेंचाइजी कैसे खोलें

आप अपने रिहायशी इलाके में बैंक ब्रांच के साथ एटीएम मशीन भी खुलवा सकते हैं।

अपनी जमीन पर एटीएम खुलवाने के लिए आप को बैंक से फिजिकली कांटेक्ट करना होगा। इसके लिए कोई भी ऑनलाइन तरीका नहीं है।

बैंक एटीएम केवल रिहायशी जमीन पर ही खुलवाया जा सकता है।

अपनी जमीन पर एटीएम खुलवाने के लिए सबसे पहले आपको यह सर्वे करना होगा कि वहां पर एटीएम लगने के बाद प्रतिदिन कितने रुपए का ट्रांजैक्शन होगा। यदि आपके इलाके में 1 दिन में 80 से ज्यादा ट्रांजैक्शन नहीं होती है तो उस जमीन पर एटीएम मशीन नहीं खुलवाई जा सकती।

आप को बैंक को यह भी बताना होगा कि आप की जमीन से दूसरे बैंक का एटीएम मशीन कितनी दूर है।

आप को बैंक को यह भी समझाना होगा कि आप की जमीन पर एटीएम मशीन क्यों लगनी चाहिए।

यह सभी सर्वे और जानकारी जुटाने के बाद आपको बैंक हेड ब्रांच में एक लेटर लिखना होगा। इस लेटर में जमीन संबंधित सारी जानकारी लिखी होगी। जैसे कि एटीएम मशीन कब से लेकर कब तक खुली रहेगी, कितना किराया अदा करना होगा, क्या सुविधाएं मिलेंगी बिजली का खर्च आदि आदि।

यदि आप सभी जरूरी शर्ते पूरी करते हैं तो कुछ ही समय बाद आपकी रिहायशी जमीन पर बैंक द्वारा एटीएम खोल दिया जाएगा।

बैंक ब्रांच खुलवाने के लिए जरूरी शर्तें

अपने मकान या घर में बैंक ब्रांच खुलवाने के लिए बैंक द्वारा तय कुछ शर्तें होती हैं। इन्हीं नियमों व शर्तों का पालन करके कोई भी व्यक्ति अपनी जमीन पर बैंक शाखा खुलवा सकता है। यह नियम व शर्तें अलग-अलग बैंकों के लिए अलग-अलग होती है परंतु ज्यादातर बैंकों के लिए यह सभी नियम व शर्तें एक समान ही है आइए जानते हैं वह शर्तें क्या है।

1. जमीन रोड पर हो

किसी भी  जमीन पर बैंक ब्रांच खुलवाने की सबसे बड़ी शर्त यह है कि वह जमीन रोड के किनारे होनी चाहिए। क्योंकि ज्यादातर बैंक रोड पर ही होते हैं। हालांकि कुछ ऐसे बैंक भी है जो मेन रोड के अलावा घर को भी किराए पर लेते हैं। ऐसा ही एक बैंक बंधन बैंक है जिसे महिला ग्रामीण बैंक भी कहा जाता। यह सभी बैंक जो महिला ग्रुप को लोन सुविधा प्रदान करते हैं वह सभी घरों को किराए पर लेते हैं। यदि आपके पास जमीन रोड नहीं है तो आप बैंक का एटीएम खुलवाने के लिए प्रयास कर सकते हैं।

2. बिल्डिंग अच्छी हालत में हो

वह कोई भी बिल्डिंग जारी जिसे आप बैंक को किराए पर देना चाहते हैं वह अच्छी हालत में होनी चाहिए। वह टूटा फूटा नहीं होना चाहिए।

3. 24 घंटे बिजली पानी की सुविधा

बैंक में 24 घंटे बिजली और पानी की सुविधा होनी चाहिए। यदि इलाका ऐसी जगह पर है जहां बिजली और पानी का कट लगता है तो आपको जरनैटर की सुविधा भी प्रदान करनी होगी। यह सारी सुविधाएं प्रदान करना मकान मालिक की जिम्मेदारी होती है।

4. पार्किंग की जगह

ज्यादातर बैंक बस स्टैंड के सामने या फिर चौराहों पर होते हैं ऐसा इसलिए क्योंकि बैंक के पास पार्किंग की जगह होनी चाहिए। जिस जमीन के सामने पार्किंग की जगह नहीं होती है उस जमीन को बैंक किराए पर नहीं लेता है।

निष्कर्ष

आपको इस पोस्ट को पढ़कर आपको समझ में आ गया होगा कि Apne dukan me yaa ghar me bank ki branch kaise khole.

किसी बैंक को अपने जमीन किराए पर देना बहुत ही बेहतरीन साबित होता है। यदि आप किसी परिवार को रहने के लिए जमीन देते हैं तो इसका यह खतरा बना रहता है कि वह समय पर किराए देंगे या नहीं देंगे। यहां तक कि कई बार किराएदार मकान मालिक का मकान खाली नहीं करते हैं और उसे कब्जा कर लेते हैं जिसके कारण मकान मालिक को बहुत सारे कानूनी झंझट में उलझना पड़ता है। इन सभी से बचने के लिए बैंक को किराए पर जमीन देना सबसे बेहतरीन साबित होता है।

सरकारी बैंक या फिर कोई भी प्राइवेट बैंक आप की जमीन कभी भी कब्जा नहीं करता है क्योंकि वह एक रेपुटेड संस्थान होते हैं। और यह बात बताने की आवश्यकता नहीं है कि बैंक आपको प्रति महीने समय पर किराया भी देते हैं क्योंकि बैंक के पास पैसों की कमी नहीं है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ADVERTISMENT
Back to top button
ADVERTISMENT