Insurance

बाइक का इंश्योरेंस ऑनलाइन कैसे करें? | Online bike insurance kaise kare?

Rate this post

बाइक का इंश्योरेंस ऑनलाइन कैसे करें?, बाइक का इंश्योरेंस क्यों जरूरी है? यह सवाल आपके मन में जरूर एक बार आया होगा तो दोस्तों आज के लेख में हम आपको बाइक इंश्योरेंस के बारे में सभी जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। यदि आप बाइक खरीदने वाले हैं या आपके पास बाइक है, तब उसका इंश्योरेंस कराना बहुत ज्यादा जरूरी है। क्योंकि यह सभी प्रकार की मुसीबतों से बाहर निकलने के लिए मदद प्रदान करती है।

ADVERTISMENT

आजकल हर कोई चाहता है कि यदि कोई भी बाइक खरीदे तो उस गाड़ी को किसी भी प्रकार का नुकसान ना हो। यदि दुर्भाग्यवश किसी प्रकार का नुकसान हो जाता है और ऐसी स्थिति में नुकसान की भरपाई करने में उन्हें आसानी हो। तब ऐसी स्थिति में निपटने के लिए बाइक इंश्योरेंस कराना जरूरी होता है और आप ऑनलाइन माध्यम से बाइक का इंश्योरेंस भी करा सकते हैं।

बाइक इंश्योरेंस क्या है बाइक का इंश्योरेंस ऑनलाइन कैसे करें

दोस्तों जिस प्रकार से विभिन्न प्रकार के बीमा प्रदान कराए जाते हैं उसी प्रकार से बाइक के लिए भी बीमा कंपनी द्वारा प्रदान किया जाता है। दरअसल बाइक इंश्योरेंस पॉलिसी इंश्योरेंस कराने वाले इंश्योरेर और बाइक मालिक के बीच में एक संविदा होती है। जिसके तहत इंश्योरेंस कंपनी एक्सीडेंट के होने वाले किसी भी प्रकार के नुकसान या फिर क्षति के विरुद्ध आपकी बाइक को हर प्रकार की फाइनेंसियल कवरेज को प्रदान कर दी है।

मोटर वाहन अधिनियम 1988 के अनुसार अब भारत में थर्ड पार्टी बाइक इंश्योरेंस कराना भी अनिवार्य कर दिया गया है। बाइक इंश्योरेंस आपको भारतीय सड़कों पर टू व्हीलर या मोटर बाइक चलाते समय होने वाली विभिन्न प्रकार की किसी भी तरह से एक्सीडेंट चोटों से कवर करता है। आपको ₹2000 का जुर्माना देने से बचाए रखता है और केवल 30 सेकेंड के भीतर टू व्हीलर इंश्योरेंस ऑनलाइन खरीद सकते हैं या फिर आप उसको रिन्यू भी करा सकते हैं।

बाइक का इंश्योरेंस क्यों जरूरी है

दोस्तों यदि आपके मन में यह सवाल आ रहा है कि बाइक का इंश्योरेंस क्यों जरूरी है? तब नीचे हमने कुछ आपको बाइक इंश्योरेंस के साथ कारण बताए हैं इनको ध्यान पूर्वक से देखें

  • आप पॉलिसी बाजार वेबसाइट पर आसानी से ऑनलाइन टू व्हीलर इंश्योरेंस को खरीद सकते हैं। क्योंकि यह कुछ ही सेकंड में आपको ऑनलाइन पॉलिसी जारी करने की अनुमति प्रदान करता है और आपका समय भी खराब नहीं होता।
  • आपको किसी भी प्रकार की अतिरिक्त शुल्क का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है यदि आप ऑनलाइन इंश्योरेंस करते हैं।
  • यदि 90 दिनों से अधिक समय तक आपको अपनी पिछली बाइक इंश्योरेंस पॉलिसी का विवरण प्रदान करने में दिक्कत हो रही है तब ऐसी स्थिति में पिछली टू व्हीलर पॉलिसी के विवरण की आवश्यकता नहीं है।
  • ऑनलाइन बाइक इंश्योरेंस करते समय आपको किसी भी प्रकार का निरीक्षण या फिर डॉक्यूमेंटेशन की आवश्यकता नहीं है। आप बिना किसी निरीक्षण और डॉक्यूमेंटेशन की अपनी पॉलिसी को रिन्यू आसानी से ऑनलाइन माध्यम से कर सकते हैं।
  • आप को समाप्त पॉलिसी का आसान तरीके से रिनुअल प्रोसेस करने की सुविधा उपलब्ध होती है। जिसके तहत आप वेबसाइट पर आसानी से जाकर अपनी समाप्त हुई पॉलिसी को ऑनलाइन माध्यम से रिन्यू कर सकते हैं।
  • आप को त्वरित क्लेम सेटेलमेंट की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाती है, आप ऑनलाइन पॉलिसी बाजार वेबसाइट पर ऑनलाइन टीम के माध्यम से अपने वाहन के लिए क्लेम भरते समय मदद प्राप्त कर सकते हैं।
  • आपको ऑनलाइन सपोर्ट की प्राप्ति होगी यानी कि जब भी आप की आवश्यकता हो तब आपको ऑनलाइन माध्यम से टीम हमेशा साथ देती है। यदि आप किसी भी जगह पर फंस जाते हैं तब ऐसी इस्तिथि में आपको चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। आप ऑनलाइन सपोर्ट के माध्यम से अपनी परेशानी का विवरण पा सकते हैं।

बाइक इंश्योरेंस करने के लाभ

बाइक का नुकसान होने पर इंश्योरेंस पॉलिसी हुए नुकसान की भरपाई करने में काफी हद तक मदद करती है। और आप को संतुष्ट रूप से कवरेज प्रदान करने का आश्वासन भी प्रदान करती है। तो चलिए और भी बाइक इंश्योरेंस करने के लाभ के बारे में नीचे निम्नलिखित प्रकार से जानकारी को देखते हैं।

  • आपको हर प्रकार से फाइनैंशल सुरक्षा प्रदान की जाती है जैसे कि आपकी गाड़ी का एक्सीडेंट हो जाए या फिर गाड़ी चोरी हो जाए ऐसी स्थिति में बाइक का इंश्योरेंस काम आता है। और किसी भी प्रकार के थर्ड पार्टी देयताओं के मामले में बहुत पैसे बचाने में भी मदद होती है।
  • बाइक इंश्योरेंस पॉलिसी आपको हर तरफ से आपकी गाड़ी को हुए नुकसान की मरम्मत करने में भी सहायक है।
  • और बाइक इंश्योरेंस करते वक्त आपको इस बात की चिंता करने की आवश्यकता नहीं है कि आपके पास पैसे है या नहीं। यदि आपने इंश्योरेंस कराया है तब आसानी से यह सारे काम हो जाएंगे।
  • बाइक इंश्योरेंस पॉलिसी की खास बात यह है कि यह केवल बाइक को होने वाले नुकसान की भरपाई नहीं करता है। यदि दुर्घटना के दौरान आपको किसी प्रकार की चोट लग जाती है तब आपके एक्सीडेंटल चोट को कवर करने के लिए भी बाइक इंश्योरेंस काफी ज्यादा सहायक है।
  • बाइक इंश्योरेंस करते समय सभी प्रकार के टू व्हीलर को एक्सेप्ट किया जाता है। उसी के साथ साथ वाहनों में भी सुधार करने में इंश्योरेंस पॉलिसी का बड़ा हाथ है।
  • जैसे कि आप जानते हैं कि भारत में मोटरसाइकिल की बढ़ती हुई मांग अब स्पेयर पार्ट्स की बढ़ती लागत को भी अंजाम दे रही हैं और इस क्षेत्र में काफी ज्यादा वृद्धि हो रही है। अब ऐसी स्थिति में टू व्हीलर पॉलिसी गाड़ी को इस्तेमाल होने वाले अतिरिक्त भागों की लागत को भी कवरेज प्रदान करती है। जिसके तहत साधारण नट्स,, और बोर्ड या फिर बोल्ट, और ब्रेक पैड जैसे अन्य भाग शामिल है जो कि अब पहले से काफी अधिक महत्वपूर्ण हो चुके हैं।
  • इंश्योरेंस कराते वक्त यानी इंश्योरेंस को खरीदते वक्त आपको रोडसाइड सहायता भी प्रदान की जाती है जैसे कि आपको माइनर रिपेयर, टोइंग, फ्लैट टायर आदि जैसी सेवाओं का लाभ उठाने के लिए भी विकल्प उपलब्ध है।

बाइक इंश्योरेंस के प्रकार

भारत में अक्सर इंश्योरेंस कंपनी द्वारा आमतौर पर लोगों के लिए  दो प्रकार की टू व्हीलर इंश्योरेंस पॉलिसी प्रदान की जाती है। जिनमें से आप थर्ड पार्टी बाइक इंश्योरेंस को चुन सकते हैं उसी के साथ-साथ कंप्रिहेंसिव बाइक इंश्योरेंस को भी चुन सकते हैं। आइए हम इन दोनों पॉलिसी के बारे में थोड़ा अधिक जानकारी जान लेते हैं जिससे आपको पता चल सके कि इन पॉलिसीज में क्या सेवाएं उपलब्ध है।

ये भी पढ़े 👉: जीवन बिमा पालिसी क्यों लेना चाहिए

ये भी पढ़े👉: कार इन्शुरन्स ऑनलाइन कैसे करे 

थर्ड पार्टी बाइक इंश्योरेंस

थर्ड पार्टी बाइक इंश्योरेंस के नाम से ही हम यह जान जाते हैं कि यह थर्ड पार्टी को नुकसान पहुंचाने से उत्पन्न होने वाली सभी प्रकार की कानूनी दायित्यवों के खिलाफ राइडर को सुरक्षित रखता है। बाइक इंश्योरेंस में आपको दुर्घटना बस चोट पहुंचाने के लिए आप की देनदारियों को भी कवर करता है जिसमें आपकी मृत्यु को भी शामिल किया गया है।

कंप्रिहेंसिव बाइक इंश्योरेंस

इस प्रकार के बाइक इंश्योरेंस में आपको प्राकृतिक आपदाओं, दुर्घटनाओं, मानव निर्मित आपदाओं, चोरी या फिर किसी भी संबंधित विपत्तियों की घटनाओं से आपकी बाइक को बचाने के लिए कवरेज प्रदान करती है। यदि बाइक को राइड करते समय किसी को भी चोट लग जाए या आपको चोट लग जाए तब ऐसी स्थिति में आपको पर्सनल एक्सीडेंट कवर भी प्रदान किया जाता है।

ऑनलाइन बाइक का इंश्योरेंस करने के लिए आवश्यक दस्तावेज

दोस्तों अब आपको तो पता ही है इंश्योरेंस करना है तो आपको दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। मगर कौन से दस्तावेजों की आपको जरूरत पड़ेगी? इसका सवाल नीचे निम्नलिखित प्रकार से हमने आपको सूची के माध्यम से बताएं कृपया करके इस को ध्यान से देखें।

  • गाड़ी के कागजात :- गाड़ी बनाने वाली कंपनी का नाम, गाड़ी का मॉडल, गाड़ी का इंजन, गाड़ी के रजिस्ट्रेशन दस्तावेज आदि जैसे डाक्यूमेंट्स।
  • आपके कागजात :- आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि जैसे दस्तावेज।

ऑनलाइन बाइक का इंश्योरेंस कैसे करें

यदि आप भी ऑनलाइन बाइक का इंश्योरेंस करना चाहते हैं तब नीचे बताई गई स्टेप्स को फॉलो करके आसानी से कर सकते हैं। परंतु आवेदन करने से पहले हम आपको यह जानकारी ज़रूर बताएंगे कि विभिन्न प्रकार की कंपनियां बाइक का इंश्योरेंस प्रदान कर रही हैं। आपको केवल प्रीमियम के बारे में ध्यान नहीं रखना है, बल्कि पॉलिसी के अन्य फीचर को ध्यान में रखते हुए आपको आगे बढ़ना है। सभी प्रकार की जानकारी लेकर ही आपको बाइक का इंश्योरेंस करना है।

  • सबसे पहले आपको बीमा कंपनी की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • यहां पर आपको टू व्हीलर इंश्योरेंस विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको ऑनलाइन इंश्योरेंस खरीदने के लिए पेज पर रीडायरेक्ट कर दिया जाएगा।
  • फिर उसके बाद आप कौन सी पॉलिसी खरीदना चाहते हैं उसका चयन करें।
  • इसके बाद आपके सामने नया पेज खुल जाएगा।
  • यहां पर आपको आवेदन फॉर्म की प्राप्ति होगी।
  • यहां पर आपको गाड़ी के सभी डिटेल दर्ज करने होंगे।
  • गाड़ी के डिटेल में उसका मॉडल नंबर, गाड़ी को बनाने वाली कंपनी का नाम, गाड़ी की इंजन की क्षमता, रजिस्ट्रेशन साल आदि को दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने खर्च होने वाली रकम यानी कि कोटेशन की जानकारी स्क्रीन पर दिखाई देगी।
  • यदि आप इस जानकारी से संतुष्ट होते हैं तब इसके बाद आपको नेक्स्ट बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको व्यक्तिगत जानकारी दर्ज करनी होगी जिसमें आपका नाम, जन्मतिथि, लिंग और अन्य बातों को दर्ज करना होगा।
  • उसके बाद आपको वाहन के बारे में सभी जानकारी प्रदान करनी होंगी जैसी रजिस्ट्रेशन की तारीख, रजिस्ट्रेशन नंबर और वाहन बनाने वाली कंपनी का नाम, वाहन की इंजन क्षमता, चेसिस नंबर, शोरूम प्राइस, वाहन का मॉडल, लोन की जानकारी आदि।
  • अब यहां पर आपको एक फॉर्म मिलेगा यहां पर सभी टर्म कंडीशन लिखी होगी यदि आप इन सब चीजों से सहमत है तो ‘मैं सहमत हूं’ वाले टैब पर क्लिक कर दें।
  • इसके बाद आपको इंश्योरेंस कंपनी पेमेंट करने वाले पेज पर रीडायरेक्ट कर देगी।
  • यहां पर आपको पेमेंट करने के लिए ऑप्शन चुनना होगा। आप यहां पर डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड या फिर पेमेंट वाले का ऑप्शन भी चुन सकते हैं।
  • पेमेंट का भुगतान करने पर पॉलिसी जनरेट हो जाएगी। आप चाहे तो इस पॉलिसी का डॉक्यूमेंट प्रिंट निकाल सकते हैं।
  • आप चाहे तो बीमा कंपनी को पॉलिसी डाक के माध्यम से भेजने के लिए भी निर्देश दे सकते हैं। कुछ ही दिनों के बाद आप के दिये गए पते पर डाक द्वारा पॉलिसी पहुंच जाएगी।

बाइक इंश्योरेंस से जुड़े कुछ प्रश्न और उनके उत्तर

दोस्तों आपके मन में बाइक इंश्योरेंस को लेकर बहुत सारे प्रश्न उठे होंगे। हमने कुछ नीचे निम्नलिखित प्रकार से आपको शॉर्ट में कुछ प्रश्न और उनके उत्तर के बारे में जानकारी प्रदान की है इनको ध्यान पूर्वक से देखें।

बाइक इंश्योरेंस क्या है कैसे ऑनलाइन आवेदन करें?

दोस्तों बाइक इंश्योरेंस एक ऐसी सुविधा है जहां पर आपको अपने बाइक को लेकर किसी प्रकार की चिंता रखने की आवश्यकता नहीं है। क्योंकि बाइक को होने वाले नुकसान की भरपाई पॉलिसी द्वारा की जाती है। और बाइक इंश्योरेंस लेने के लिए ऑनलाइन माध्यम से आसानी से आवेदन कर सकते हैं। आपको विभिन्न प्रकार की पॉलिसी मार्केट में मिल जाएगी अब पहले जानकारी ले उसके बाद ऑनलाइन आवेदन करें।

क्या ऑफलाइन माध्यम से बाइक का इंश्योरेंस किया जा सकता है?

जी हां यदि आप ऑनलाइन माध्यम से बाइक का इंश्योरेंस नहीं करना चाहते हैं, तब बाइक का इंश्योरेंस ऑफलाइन माध्यम से भी किया जा सकता है। इसके लिए आपको नजदीकी बैंक में जाना होगा वहां पर आपको आवेदन पत्र भरना होगा। उसी के साथ साथ दस्तावेजों को भी फोटो कॉपी के माध्यम से सबमिट करना होगा। ऑफलाइन आवेदन करते समय आपको ऑफलाइन माध्यम से विभिन्न प्रकार की बाइक इंश्योरेंस पॉलिसी के बारे में जानकारी प्रदान की जाएगी। आपको जो सही लगे आप उस पॉलिसी में आवेदन कर सकते हैं।

बाइक का इंश्योरेंस करने के लिए कौन से दस्तावेजों की जरूरत पड़ेगी?

बाइक का इंश्योरेंस करने के लिए आपको बाइक के सभी प्रकार के दस्तावेजों की आवश्यकता है। यानी की बाइक की संपूर्ण जानकारी आपके पास होनी चाहिए और बाइक के मालिक की भी जानकारी होनी जरूरी है। बाइक को खरीदने से लेकर बाइक बनाने वाली कंपनी का नाम, मॉडल नंबर, RC आदि जानकारी चाहिए। रजिस्ट्रेशन की जानकारी भी चाहिए और हम मालिक की बात करें तो आधार कार्ड, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि चाहिए होगा।

क्या बाइक का इंश्योरेंस कराना बहुत ज्यादा जरूरी होता है?

जी हां बाइक का इंश्योरेंस कराना बेहद ज्यादा जरूरी होता है क्योंकि यह न केवल आपको बाइक को होने वाले नुकसान से बचाता है, बल्कि यदि आपको पर्सनली भी कोई नुकसान हो जाता है तब उसका भी कवरेज आपको प्रदान किया जाता है। इसीलिए आपके और आपके बाइक की सुरक्षा दोनों ही पॉलिसी के तहत ध्यानपूर्वक की जाती है।

कैसे पता करे की कौन सी पॉलिसी अच्छी है?

यदि आप यह पता करना चाहते हैं कि बाइक का इंश्योरेंस कराने के लिए कौन सी पॉलिसी सबसे बेहतर है जो आपको आपके बजट में प्राप्त होगी। तो इस जानकारी के लिए आप अपनी नजदीकी बैंक शाखा में जा सकते हैं। वहां पर बाइक का इंश्योरेंस करने के लिए विभिन्न प्रकार की पॉलिसी के बारे में पूछताछ कर सकते हैं।

conclusion

तो दोस्तों यह थी जानकारी बाइक का इंश्योरेंस ऑनलाइन कैसे करें इसके बारे में। हमें आशा है कि आप समझ गए होंगे कि बाइक का इंश्योरेंस क्यों जरूरी है। हमने आपको आज के इस लेख के माध्यम से ऑनलाइन बाइक इंश्योरेंस करने की प्रक्रिया के बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान की है।

उसी के साथ साथ हमने आपको ऑनलाइन अप्लाई का प्रोसेस भी बताया है उस को ध्यान पूर्वक से देखें। यदि आपको किसी प्रकार का सवाल पूछना है तो नीचे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं वैसे तो हमने ऊपर प्रश्न और उत्तर के माध्यम से आपको सभी प्रकार की जानकारी प्रदान की है उनको एक बार जरूर पढ़ ले।

 
ADVERTISMENT

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ADVERTISMENT
Back to top button
ADVERTISMENT